ओबेसिटी या मोटापा

आसन और प्राणायाम सूर्य नमस्कार तिर्यक ताड़ासन त्रिकोणासन कोणासन पाद हस्तासन चक्की चलन स्थिर कोणासन पश्चिमोत्तानासन भुजंगासन शलभासन द्विचक्रिका आसन पाद वृतासन मर्कट आसन शवासन भस्त्रिका कपालभाति अनुलोम विलोम बाह्य प्राणायाम अग्निसार उज्जायी सर्वकल्प क्वाथ […]

How to control and cure acidity

अम्लपित्त(Acidity) के रोग पहला प्रयोगः एक लीटर कुनकुने पानी में 8-10 ग्राम सेंधा नमक डालकर पंजे के बल बैठकर पी जायें। फिर मुँह में उँगली डालकर वमन कर दें। इस क्रिया को गजकरणी कहते हैं। […]

नाभि पर अलग-अलग तेल लगाने से मिलेंगे अनोखे फायदे

“नाभि पर अलग-अलग तेल लगाने से मिलेंगे अनोखे फायदे” सर्दी का मौसम खुश्क होने के कारण त्वचा से जुडी कई समस्याएं हो जाती हैं। इसके लिए लोग त्वचा पर बहुत तरह के क्रीम का इस्तेमाल […]

ओबेसिटी या मोटापा

ओबेसिटी या मोटापा,आसन और प्राणायाम,सूर्य नमस्कार,तिर्यक ताड़ासन,त्रिकोणासन,कोणासन,पाद हस्तासन,चक्की चलन,स्थिर कोणासन,पश्चिमोत्तानासन,भुजंगासन,शलभासन,द्विचक्रिका आसन,पाद वृतासन,मर्कट आसन,शवासन,भस्त्रिका,कपालभाति,अनुलोम विलोम,बाह्य प्राणायाम,अग्निसार,उज्जायी सर्वकल्प क्वाथ 200gm,कायाकल्प क्वाथ 200gm,त्रिफला चूर्ण 100gm सबको मिला कर रख लें। सुबह 1 चमच का काढ़ा बना का पीना […]