पाखंड और परंपरा

#पाखंड_के_किले और ।#परंपरा_के_ऊंघते_पुरोधा अगर लफंगों के वैचारिक ढाल बनकर आप सोच रहे हैं कि आप हिंदुत्व की रक्षा कर रहे हैं तो आपमें और जाहिल जिहादियों में बस प्रतीकात्मक रंग का अंतर है। वे हरे […]