Yog kyo karte hain.?

द्वैत और आनंद क्यों करते हैं योग ? सुख और दुःख हमेशा मौजूद रहते हैं इस सिद्धांत को ही द्वैत सिद्धांत कहते हैं। दिन है तो रात भी है अँधेरा है उजाला भी है लड़का […]